तेहरान : ईरान के राष्ट्रपति हसन रुहानी ने मंगलवार को अमेरिकी प्रतिबंधों के खिलाफ कड़ा रुख अपनाते हुए खाड़ी से कच्चे तेल की अंतरराष्ट्रीय बिक्री को बंद करने की चेतावनी दी। समनान प्रांत में एक रैली को संबोधित करते हुए रुहानी ने कहा, अमेरिका को पता होना चाहिए कि वह ईरान के तेल का निर्यात रोक नहीं सकता है।

टीवी पर प्रसारित इस रैली में रुहानी ने कहा कि यदि अमेरिका ऐसा करने का प्रयास करता है तो फारस की खाड़ी से कोई तेल बाहर नहीं जाने दिया जायेगा। ईरान 1980 के दशक से ही अंतरराष्ट्रीय दबाव के मद्देनजर बार-बार खाड़ी से तेल का निर्यात रोकने की धमकी देता रहा है, लेकिन उसने ऐसा कभी किया नहीं है। ईरान और दुनिया की प्रमुख ताकतों के बीच 2015 में हुए परमाणु करार से अमेरिका मई में निकल गया था। उसके बाद अमेरिका ने ईरान पर प्रतिबंध फिर से लगाये थे और साथ ही दुनिया के देशों से ईरान से तेल की खरीद को शून्य पर लाने को कहा था। हालांकि, बाद में अमेरिका ने अस्थायी रूप से आठ देशों को इस मामले में कुछ छूट दी है।