प्रयागराज : यमुनापार के कौंधियारा थानांतर्गत मिश्रा बांध गांव में शुक्रवार की सुबह एक 22 वर्षीय युवक ने 50 रूपए की खातिर अपनी मां की फावड़े से हमलाकर हत्या कर दी। वह अपनी मां से 50 रूपए मांग रहा था, लेकिन मां ने देने से मना कर दिया था। इस घटना के बाद पड़ोसियों ने आरोपी युवक को खंभे से बांधकर पीटा और फिर पुलिस को सौंप दिया। पुलिस ने शव का पंचनामा करके पोस्टमार्टम हाउस भेज दिया।

नशेड़ी है आरोपी, सुबह से कर रहा था हंगामा
मिश्रा बांध गांव निवासी रामकैलाश पटेल खेती किसानी करते हैं। उनके दो बेटे हैं। बड़ा बेटा रमेश बहादुर मिश्रा बांध पर ही किराने की दुकान चलाता है। छोटा बेटा कुंवर बहादुर पटेल (22) कोई काम धंधा नहीं करता। वह नशे का लती है। जिसकी वजह से आए दिन घर पर हंगामा करता था। शुक्रवार सुबह करीब छह बजे से ही कुंवर बहादुर रूपए की डिमांड को लेकर घर में हंगामा किए था। उसकी हरकत को अनदेखी करते हुए बड़ा भाई दुकान खोलने चला गया। करीब सात बजे कुंवर बहादुर की छोटी बहन रोते हुए दुकान पर पहुंची और बताया कि भाई ने अम्मा को फावड़े से काट डाला। उसकी बात सुन रमेश और दुकान पर बैठे पिता रामकैलाश भागकर घर पहुंचे।

घर वालों पर बोला हमला तो लोगों ने खंभे बांधकर पीटा
घर पहुंचने पर रमेश और राम कैलाश ने देखा कि उसकी मां रामप्यारी (55) की खून से सनी लाश पड़ी है। कुंवर बहादुर फावड़ा लिए घर की अन्य महिलाओं को मारने की कोशिश कर रहा है। गांव के लोग भी आ गए। लोगों ने उसे पकड़कर वहीं खंभे से बांध दिया। इसके बाद भी वह शांत नही हुआ तो उसको पीट कर शांत कराया।

पहले भी कई बार मां को पीटा
सूचना के बाद पहुंची पुलिस ने आरोपी को कब्जे में लेकर थाने भेज दिया और शव का पंचनामा करके पोस्टमार्टम हाउस भेज दिया। पिता रामकैलाश ने बताया कि कुंवर बहादुर मां से सुबह से 50 रुपए मांग रहा था। मां रामप्यारी ने देने से मना कर दिया तो उसने गुस्से में आकर मां को मार डाला। उन्होंने बताया कि इससे पहले भी वह मां को कई बार पीट चुका था। वह कुछ दिमाग से कमजोर है।

आला कत्ल संग आरोपी पुलिस हिरासत में
सीओ बारा सहीराम आर्य ने बताया कि आरोपी पुलिस हिरासत में है। घरवाले उसे मेंटल डिस्टर्व बता रहे हैं। पैसे की डिमांड न पूरी होने पर उसने मां को मार दिया। मौके से आला कत्ल खून से सना फावड़ा भी बरामद कर लिया गया है।