नई दिल्ली: एस्सार ग्रुप के स्टील और पावर बिजनेस की 6 कंपनियों के खिलाफ जांच के लिए भारत ने स्विट्जरलैंड के टैक्स विभाग से मदद मांगी है। न्यूज एजेंसी ने वहां के आधिकारिक दस्तावेजों के आधार पर शुक्रवार को यह जानकारी दी। इसके मुताबिक एस्सार स्टील इंडिया लिमिटेड, एस्सार प्रोजेक्ट्स इंडिया लिमिटेड, एस्सार पावर गुजरात लिमिटेड, एस्सार पावर एमपी लिमिटेड, एस्सार पावर (झारखंड) और एस्सार बल्क टर्मिनल (सलाया) लिमिटेड के बारे में स्विट्जरलैंड से जानकारी मांगी गई है।

स्विट्जरलैंड से कोई नोटिस नहीं मिला: एस्सार ग्रुप

स्विट्जरलैंड ने एस्सार ग्रुप की कंपनियों के लिए 18 जून को अधिसूचना जारी की। उन्हें भारत के आवेदन के खिलाफ अपील का मौका दिया है। उधर, एस्सार ग्रुप के प्रवक्ता ने कहा है कि जिन कंपनियों की बात की जा रही है उनका स्विट्जरलैंड में कोई अघोषित खाता नहीं है। हमें स्विट्जरलैंड की ओर से कोई नोटिस भी नहीं मिला है।

स्विट्जरलैंड के 18 जून के गजट नोटिफिकेशन में दो भारतीयों महेश टीकमदास थरानी और सावनी विजय कन्हैयालाल के नाम भी हैं। पिछले कुछ हफ्तों में 50 से ज्यादा भारतीयों के लिए ऐसे नोटिफिकेशन जारी हुए हैं। इनमें वे लोग शामिल हैं जिनके खिलाफ भारत में आयकर विभाग और प्रवर्तन निदेशालय जैसी एजेंसियां जांच कर रही हैं और जिनके नाम एचएसबीसी और पनामा की लिस्ट में हैं।