लखनऊ: जिले के गुडंबा के गढ़ी इलाके में शुक्रवार रात बदमाशों ने एक महिला के घर में घुस कर तमंचा सटा कर सिर में गोली मार दी। जिससे वह लहूलूहान होकर वहीं पर धराशाई हो गई। गोली की आवाज सुनकर घर के लोगों की नींद खुली और सौ नंबर डायल कर घटना की जानकारी पुलिस को दी। गोली मारने की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस घायल को ट्रामा सेंटर पहुंचा, जहां उसको डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। वहीं, पुलिस घर के आसपास रास्ते में लगे सीसीटीवी कैमरों की मदद से बदमाशों की शिनाख्त की जा रही है।

पुलिस के मुताबिक गढ़ी गांव निवासी प्रेमा यादव (44) परिवार के साथ रहती थी। प्रेमा के परिवार में तीन बेटे जीतेंद्र यादव, सुवेंद्र यादव, देवेंद्र यादव और चार बेटियां रजनी यादव, लालवती यादव, निशा यादव और सोनी यादव हैं। जबकि प्रेमा के पति प्रेम शंकर यादव की पाँच साल पूर्व गोली मार कर हत्या हुई थी। प्रेमा की बेटी लालवती के मुताबिक उसका भाई देवेंद्र खेतों में गया था और भाई जीतेंद्र चिनहट स्थित बुआ के घर गया था। वह घर में खाना बना रही थी और परिवार के अन्य सदस्य छत पर लेटे हुए थे। इस दौरान घर मेन गेट पर गोली चलने की आवाज आई।

गोली की आवाज सुनकर वह गेट पर पहुंची तो देखा मां लहूलुहान पड़ी है। माँ को लहूलुहान देखकर वह रोने चिल्लाने लगी लगी जिससे घर मौजूद परिवार के लोग आ गये और सौ नंबर डायल कर पुलिस को घटना की जानकारी दी। गोली मारे जाने की सूचना पाते ही थाने की पुलिस के अलावा में मौके पर अन्य पुलिस के अफसर भी पहुंच गये। घायल को इलाज के लिए ट्रामा पहुंचा, लेकिन वहां उसकी मौत हो गई।

एसपी ट्रांस गोमती अमित कुमार ने बताया कि इस तरह से कि मामला जल्दी का है इसलिए अभी तक इस बारे में कोई जानकारी नहीं आई है और इस साथी इस बारे में कुछ कहना जल्दबाजी होगी फिलहाल पुलिस सभी बिन्दुओ को देख जांच कर रही है। जल्द ही आरोपी को पुलिस पकड़ हत्या का खुलाश करेगी।