वॉशिंगटन : 28 सितंबर को न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र महासभा के सत्र को संबोधित करेंगे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। यूएन ने महासभा के 74वें सेशन के लिए वैश्विक नेताओं की लिस्ट जारी की। इससे पहले मोदी ह्यूस्टन में 22 सितंबर को भारतीय समुदाय के ‘हाउडी मोदी!’ कार्यक्रम में भी हिस्सा लेंगे।

24 से 30 सितंबर तक चलेगा संयुक्त राष्ट्र महासभा का सत्र
अमेरिका दौरे पर मोदी जनरल असेंबली के दौरान ही कुछ अंतरराष्ट्रीय नेताओं के साथ द्विपक्षीय और बहुपक्षीय वार्ता में शामिल होंगे। इससे पहले मोदी ने पहले कार्यकाल के पहले साल (2014) में भी यूएनजीए के सत्र को संबोधित किया था। इस साल डिबेट 24 से 30 सितंबर तक चलेगी। मोदी 28 सितंबर को मंच पर अपनी बात रखेंगे।

मोदी तीसरी बार अमेरिका में भारतीय समुदाय से मिलेंगे
मोदी अमेरिका के ह्यूस्टन में 22 सितंबर को भारतीय समुदाय को संबोधित करेंगे। समिट की मेजबानी ह्यूस्टन स्थित टेक्सास इंडिया फोरम करेगा। ह्यूस्टन को दुनिया की ऊर्जा राजधानी भी कहा जाता है। मोदी के लिए भी ऊर्जा सुरक्षा ही प्राथमिकता रही है।

2014 में प्रधानमंत्री बनने के बाद यह तीसरा मौका होगा, जब मोदी अमेरिका में भारतीय-अमेरिकी समुदाय के सामने भाषण देंगे। इससे पहले 2014 में न्यूयॉर्क मेडिसन स्क्वॉयर गार्डन और 2016 में सिलिकॉन वैली में भी मोदी के कार्यक्रम रखे गए थे। दोनों ही मौकों पर भारतीयों की भारी भीड़ जुटी थी। एक अनुमान के मुताबिक, इन कार्यक्रमों में पूरे यूएस से 20 हजार से ज्यादा लोग मोदी को सुनने पहुंचे थे।

जलवायु परिवर्तन पर होने वाले कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे मोदी
23 सितंबर को मोदी यूएन महासचिव एंटोनियो गुटेरेस की मेजबानी में जलवायु परिवर्तन पर होने वाली विशेष बैठक में भी भाषण देंगे। इसके बाद 24-25 सितंबर को वे यूएन के स्थाई विकास लक्ष्य पर होने वाली समिट में भी हिस्सा लेंगे।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प 24 सितंबर को ही संयुक्त राष्ट्र महासभा में भाषण देंगे। स्पीकर्स की लिस्ट के मुताबिक, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान 27 सितंबर को महासभा को संबोधित करेंगे। महासभा में इस साल 48 देशों के प्रमुख और 30 देशों के विदेश मंत्री भाषण देने न्यूयॉर्क पहुंचेंगे।