मुजफ्फरपुर : बिहार के मुजफ्फरपुर में अहियापुर थाना अंतर्गत बाड़ा जगन्नाथ में मां से हुई लूट करने की कोशिश का प्रतिरोध की कीमत एक छात्र को जान देकर चुकानी पड़ी। गुरुवार को 12 वर्षीय छात्र सूरज कुमार की स्कूल की कक्षा में घुसकर एक युवक ने चाकू से गोद हत्या कर दी। घटना के समय कक्षा में 40 बच्चे मौजूद थे। हमलावर ने छात्र पर लगातार कई बार वार किए। हालांकि, पुलिस ने बताया कि हमलावर विकास कुमार घटना के आठ घंटे के अंदर ही गिरफ्तार कर लिया गया है।

अस्पताल पहुंचने से पहले हो चुकी थी मौत

बच्चों की चीख सुनकर मौके पर पहुंचे स्कूल के शिक्षक घायल सूरज को श्रीकृष्ण मेडिकल कॉलेज अस्पताल ले गए, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस उपाधीक्षक डीएसपी (कस्बा) मुकुल कुमार रंजन ने बताया कि घटना की जानकारी होने पर वह अहियापुर पुलिस स्टेशन एसएचओ के साथ श्रीकृष्ण मेडिकल कॉलेज पहुंचे और मामला दर्ज किया। उन्होंने बताया कि आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है।

सूरज के विरोध करने से नाराज था आरोपी

पुलिस ने बताया कि, सूरज स्थानीय राजकीय माध्यमिक विद्यालय की सातवीं कक्षा का छात्र था। सूरज के पिता विजय राम ने पुलिस को बताया कि बुधवार शाम को सूरज और विकास के बीच झगड़ा हुआ था। विकास ने सूरज की मां का पर्स छीनने की कोशिश की थी। उन्होंने बताया कि झगड़े के बाद मामला पंचायत के सामने ले जाया गया और मामले को निपटा दिया गया। विजय राम का आरोप है कि उनके ऊपर पुलिस शिकायत दर्ज नहीं कराने का पंचायत ने दबाव बनाया था।

आरोपी मौके से फरार हो गया

पुलिस ने बताया कि सूरज रोजाना की तरह ही गुरुवार सुबह स्कूल गया था। वह कक्षा में अन्य छात्रों के साथ बैठा हुआ था। तभी विकास उसकी कक्षा में जा पहुंचा और सूरज पर हमला बोल दिया। उसने सूरज के सीने, पेट और हाथों पर कई वार किए। कक्षा में मौजूद अन्य छात्र घबरा गए और वे चिल्लाकर क्लास से बाहर भागने लगे। इस बीच मौका पाकर आरोपी फरार हो गया।

क्रिकेट / शाकिब की खराब फॉर्म से गुजर रहे कप्तान तमीम इकबाल को सलाह- पहले आराम करो, फिर वापसी करना