धर्म डेस्क. अभी सावन माह चल रहा है। शिवजी का ये प्रिय माह 15 अगस्त को पूर्णिमा और रक्षाबंधन तक चलेगा। पुरानी परंपरा है कि घर में शिवजी और शिव परिवार की मूर्तियां और तस्वीर रखने से सकारात्मकता बनी रहती है। नियमित रूप से पूजा करने से घर में सुख-शांति का वातावरण रहता है। शिवपुराण में बताया गया है शिवजी की इच्छा से ही इस संपूर्ण सृष्टि की रचना ब्रह्माजी द्वारा की गई है। इसी वजह से शिवजी को सर्वश्रेष्ठ माना गया है। काफी लोग अपने घर में शिवजी की फोटो या मूर्ति घर में जरूर रखते हैं। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार जानिए शिवजी की तस्वीर और मूर्ति से जुड़ी खास बातें…

भगवान शिव का निवास कैलाश पर्वत उत्तर दिशा में है। इस वजह से शिवजी की मूर्ति या फोटो उत्तर दिशा में लगाना शुभ माना गया है।
शिवजी के साथ ही माता पार्वती, गणेशजी, कार्तिकेय स्वामी और नंदी की मूर्ति भी रखनी चाहिए। शिव परिवार की पूजा एक साथ करना ज्यादा शुभ रहता है।
शिवपुराण के अनुसार घर में बहुत बड़ा शिवलिंग नहीं रखना चाहिए। घर के मंदिर में हमारे अंगूठे के पहले हिस्से के बराबर या इससे छोटा शिवलिंग ही रखना चाहिए।
वैवाहिक जीवन से जुड़ी परेशानियां दूर करने के लिए पति-पत्नी को घर में पूरा शिव परिवार रखना चाहिए। शिव परिवार की पूजा करने से पति-पत्नी के बीच प्रेम बना रहता है।
घर की उत्तर दिशा में शिवजी की फोटो या मूर्ति ऐसी जगह पर लगानी चाहिए, जहां घर में आने-जाने वाले सभी लोग महादेव के दर्शन कर सके।
शिवजी की ऐसी मूर्ति या तस्वीर लगानी चाहिए, जिसमें वे प्रसन्न दिख रहे हों। शिवजी नंदी पर विराजित हों या फिर ध्यान में बैठे हों।
जहां शिवजी की फोटो लगी हो, वो जगह एकदम साफ होनी चाहिए। शिवजी के आसपास गंदगी न रखें।
शिवजी के क्रोधित स्वरूप को घर में रखने से बचना चाहिए। महादेव का क्रोधित स्वरूप रखने से घर में अशांति बढ़ सकती है। जिस फोटो में शिवजी तांडव कर रहे हैं, वह फोटो भी घर में नहीं रखनी चाहिए।