अगर आपके मोबाइल पर 448 रुपये का जिओ रीचार्ज मुफ्त मिलने का मैसेज आया है तो सावधान हो जाएं। मैसेज में दिए गए लिंक पर क्लिक करने मात्र से आपका मोबाइल डेटा चोरी हो सकता है। रिलायंस जिओ कम्युनिकेशन कंपनी ने इस तरह की स्कीम को पौंजी (गलत) बताते हुए ग्राहकों को ध्यान नहीं देने की अपील की है। साइबर विशेषज्ञों ने भी स्मार्टफोन यूजर्स को अलर्ट कर दिया है।

सोशल मीडिया पर इन दिनों एक मैसेज वायरल हो रहा है। दावा है कि जिओ कंपनी ने सभी भारतीय यूजर्स को 448 रुपये तक का फ्री रीचार्ज देने की घोषणा की है। इसके नीचे एक लिंक दिया गया है। लिंक पर क्लिक करके मुफ्त रीचार्ज करने की बात कही गई है। कुछ लोगों ने इस लिंक को खोला तो एक ऑनलाइन प्रोफार्मा सामने आया। प्रोफार्मा में Name, Gmail ID, MOBILE phone number भरकर सम्मिट करने पर एक नया पेज खुलकर सामने आएगा।

इस मैसेज को पांच ग्रुपों में भेजने की बात कही गई है। कुल मिलाकर मुफ्त रीचार्ज जैसी कोई चीज इस पेज पर नहीं दिखी। मेरठ जोन पुलिस के साइबर एक्सपर्ट्स कर्मवीर सिंह ने इस संबंध में रिलायंस कम्युनिकेशन को पत्र लिखा और इस वायरल मैसेज की सच्चाई जानी। रिलायंस की तरफ से जवाब आया है कि उनकी ऐसी कोई स्कीम नहीं है। जिओ कस्टमर सपोर्ट के ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से भी ट्वीट कर इस तरह के ऑफर की घोषणा को खारिज किया गया है।