केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने रविवार को कहा कि देश में किसी भी अवैध प्रवासी को रहने की अनुमति नहीं दी जाएगी साथ ही कहा कि असम में राष्ट्रीय नागरिक पंजी एनआरसी की कवायद समयबद्ध तरीके से पूरी की गई

अनुच्छेद में पूर्ण सत्र में आठ पूर्वोत्तर राज्यों के मुख्यमंत्रियों को संबोधित कर रहे थे उन्होंने कहा कि संबोधन में विभिन्न लोगों ने एनआरसी को लेकर कई सवाल उठाएं मैं स्पष्ट करना चाहता हूं कि केंद्र सरकार किसी अवैध प्रवासी को रहने की अनुमति नहीं देगी यह हमारी प्रतिबद्धता है उन्होंने कहा कि असम में राष्ट्रीय नागरिक पंजी एनआरसी की कवायद समयबद्ध तरीके से पूरी की गई है

उत्तर पूर्वी परिषद की 68 वे बैठक को संबोधित करते हुए शाह ने कहा जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद यहां के लोगों की डर था कि अनुच्छेद 371 भी हटाया जाएगा मैं उन लोगों को आश्वस्त करता हूं कि इससे कोई छेड़छाड़ नहीं की जाएगी मैंने संसद में भी स्पष्ट किया था और यहां भी करना चाहूंगा कि इसे नहीं हटाया जाएगा अनुच्छेद 370 अस्थाई व्यवस्था थी जबकि अनुच्छेद 371 एक विशेष प्रावधान है दोनों में यह मूल अंतर है