भारतवासियों में स्वच्छता अभियान की अलख जगाने के बाद अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सिंगल यूज़ प्लास्टिक के इस्तेमाल के खिलाफ मुहीम छेड़ दी है. प्रधानमंत्री ने आज मथुरा से प्लास्टिक मुक्त भारत अभियान की शुरुआत की. पीएम मोदी ने वहां कूड़ा छांटने वाले कर्मचारियों से बात की. सफाईकर्मियों वहां कूड़े से प्लास्टिक को अलग करने का काम कर रहे थे. देखते ही देखते पीएम उनके साथ बैठ गए और प्लास्टिक छांटने लगे.

प्रधानमंत्री मोदी ने रोजाना कूड़ा बीनने वाली महिलाओं से जाना कि किस तरह से कूड़े से प्लास्टिक को अलग किया जाता है. इसके लिए एक मशीन भी लगाई गई थी, जिसमें सिंगल यूज्ड प्लास्टिक को डीकम्पोज किया जा सकता है. पीएम ने प्लास्टिक को छांटने के बाद मशीन में उसे डीकम्पोज भी किया

आज देश प्लास्टिक से उबरने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है मोदी ने कहा कि हमें प्लास्टिक को वाय-2 करना चाहिए ।

दरअसल, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुधवार को मथुरा में पशु आरोग्य मेले, पशुओं में होने वाली विभिन्न बीमारियों के टीकाकरण कार्यक्रम, टीकाकरण अभियान के लिए 40 सचल वाहनों को हरी झंडी दिखाने, कृषि से जुड़ी कई योजनाओं की शुरुआत करने पहुंचे थे.

पीएम ने गाय के पेट की सर्जरी कर निकाली जाने वाली पॉलीथिन का भी लाइव ऑपरेशन भी देखा. ऑपरेशन देखकर प्रधानमंत्री मोदी भावुक हो गए. वहीं, मुख्यमंत्री योगी के चेहरे पर भी दर्द छलक आया. उन्होंने गायों की नस्लों के बारे में जानकारी ली. राष्ट्रीय गोकुल मिशन के द्वारा पशुओं का उन्नत किया जा रहा है. पशु चारे को किस तरह से उगाया जाए यह भी प्रदर्शनी में शामिल है. प्रधानमंत्री ने मंच से विकास योजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण भी किया.

इस दौरान वह पशु विभाग द्वारा आयोजित मेला प्रदर्शनी का भी निरीक्षण भी किया. इस दौरान पीएम ने गौ सेवा भी की. गाय को टीका लगाकर उसे माला पहनाई.

संयुक्त राष्ट्र के सम्मेलन (यूएनसीसीडी) के पक्षों की सभा के 14वें सत्र (कॉप 14) को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि सिंगल यूज वाले प्लास्टिक को ‘अलविदा’ कहने का समय आ गया है. प्रधान मंत्री मोदी ने कहा, “मेरी सरकार ने घोषणा की है कि भारत आने वाले वर्षों में सिंगल यूज वाले प्लास्टिक को समाप्त कर देगा. उन्होंने कहा कि 2015 से 2017 के बीच इंडिया में पेड़ और जंगल के दायरे में आठ लाख हेक्टेयर की बढ़ोतरी हुई है.

पीएम मोदी ने संकल्प लिया है कि देश को प्लास्टिक से मुक्त कर दिया जाएगा. क्योंकि प्लास्टिक दुनिया के लिए आफत बन गई है. इससे निपटने की समस्या एक बड़ी चुनौती है. पीएम मोदी भारत को सिंगल यूज प्लास्टिक से मुक्त करने की अपील की है।