सच में अगर आप एक जिम्मेदार माता-पिता हैं यह (मैसेज) न्यूज़ आपके लिए हैं अगर आपने अपने बच्चों के या खुद पर अप्लाई किया तो देखिएगा आपके जिंदगी में एक बेहतरीन परिवर्तन आएगा आपके बच्चों की जिंदगी बहुत अच्छी हो जाएगी

पेरेंट्स के सामने बच्चों को लेकर सबसे बड़ी समस्या है stress and Frustration आजकल के बच्चे बहुत ही stress and Frustration मे हैं

माता-पिता के सामने दूसरी जो सबसे बड़ी समस्या है वह है career and profession हर माता-पिता बच्चों के कैरियर को लेकर बहुत ही ज्यादा चिंतित है

तीसरी जो सबसे बड़ी समस्या है माता पिता को लेकर आज बच्चों का माता-पिता से रिलेशन अच्छा नहीं है Relation between child and parents? बच्चों को माता-पिता की बातें समझ में नहीं आती और माता पिता को बच्चों की बातें समझ में नहीं आती?

आप अपने बच्चों को ऐसे ट्रीट करते हैं जैसे आपका बच्चा बच्चा ना हो एक आतंकवादी हो गया हो उसको मारते हैं पीटते हैं डांटते हैं टोंकते हैं पता नहीं क्या-क्या करते हैं क्या आपको लगता है कि यह एक सही सलूशन है?

आपको जानकर बहुत हैरानी होगी कि आज इंडिया में हर साल 12 हजार से 13 हजार बच्चे पढ़ाई के दबाव में सुसाइड कर लेते हैं

क्या आप जानते हैं हमार इंडिया में सबसे ज्यादा एजुकेशन पर खर्च किया जाता है

और क्या आप जानते हैं कि 70 से 75% बच्चे अपना सब्जेक्ट स्ट्रीम प्रोफेशन यह सब अपने परिवार और दोस्तों के हिसाब से चुनते हैं ?

आपको जानकर और भी हैरानी होगी कि 85% लोग 35 से 40 साल की उम्र में जाकर उन्हें लगता है कि वह गलत प्रोफेशन में आ गए जब इतने सारे लोगों को बाद में एहसास होता है कि हम गलत प्रोफेशन में आ गए तो एक बच्चा कैसे डिसाइड कर सकता है कि हम कौन सा प्रोफेशन सिलेक्ट करें यह जिम्मेदारी माता-पिता की है जिसे उन्हें निभानी चाहिए क्योंकि माता पिता जानते हैं बच्चे के ऊपर कितना पैसा लगा रहे हैं एक नर्सरी से लेकर ग्रेजुएशन पोस्ट ग्रेजुएशन 22 से 25 साल लगाने के बाद लाखों रुपए खर्च होने के बाद उस बच्चे को यह गारंटी नहीं मिलती कि उसको 10 व 20 हजार का जॉब मिल जाए क्या यह सही है या गलत ? मार्केट से हम कोई भी इलेक्ट्रॉनिक वस्तु खरीदते तो उसको ऑपरेट करने के लिए मैनुअल बुक दिया तो आप अपने बच्चों के लिए उसके दिमाग को पढ़ने के लिए कौन सा साधन मैनुअली यूज करते हैं मनुष्य दिमाग भी तो एक इलेक्ट्रॉनिक उपकरण की तरह है क्या आपने कभी अपने बच्चे को कैसे ऑपरेट करना उसके बारे में सोचा अब आप सोचेंगे कि आपका बच्चा कोई मशीन नहीं है लेकिन विज्ञान को के द्वारा इस दुनिया में जो भी चीज है उसकी एक टेक्नोलॉजी है और हमें उस टेक्नोलॉजी को समझना होगा! (Everything in this world is a Technology ) अगर आप टेक्नोलॉजी को समझ गए उसी दिन आप अपने बच्चों को सक्सेसफुल बना लेंगे

अगर सच में आप अपने बच्चों को क्या करते हैं तो आप कुछ क्वेश्चन का जवाब दीजिए

🔷आप के बच्चों को स्ट्रेच और फेडरेशन क्यों होता है

🔷आपको पता है हर बच्चे में एक प्रतिभा एक टैलेंट छुपी हैं 8 Multiple intelligence

🔷क्या आप जानते हैं की आपके बच्चे की लर्निंग पैटर्न क्या है Auditory, Visual, Kinesthetic

अगर हम इस पैटर्न से ही अपने बच्चों को पढ़ाएं तो 20 से 25% मार्क ज्यादा आएंगे जो बच्चे Kinesthetic होते हैं बिना ट्यूशन के ही अच्छा परफॉर्म कर सकते लेकिन उन बच्चों को ट्यूशन लगा कर हम उन्हें और कमजोर करने का कार्य करते हैं माता पिता यह नहीं जानते कि हमारे बच्चे की Strength and weakness क्या है बिना जाने जैसी पूरी दुनिया कर रही है वैसे ही अपने बच्चों के साथ करने लगते हैं चाहे उस बच्चे का जितना बुरा हाल हो यह हम नहीं सोचते और ना ही सोचना चाहते हैं

क्या आपने कभी सोचा है एक ही क्लास, एक किसी पैटर्न, एक ही टीचर ,एक ही किताब उसी उम्र के बच्चे उस क्लास में कुछ बच्चे Excellent होते हैं कई बच्चे Average होते हैं और कुछ बच्चे Poor होते हैं ऐसा क्यों होता है ??

कुछ लोग ऐसे भी हैं जिन्होंने बहुत ज्यादा पढ़ाई नहीं किया लेकिन अपने आप में वह सुपरस्टार हैं अपने आप बहुत ऊंची पोजीशन पर हैं प्रतिभा के धनवान है

जैसे धीरूभाई अंबानी रिलायंस इंडस्ट्रीज के मालिक इनकी एजुकेशन 8 पास है!

कैलाश कटघर जोकि क्विक हील के फाउंडर हैं इनकी एजुकेशन 12 पास हैं

रितेश अग्रवाल जो कि OYO कंपनी के फाउंडर हैं इनकी एजुकेशन 12 पास हैं

राहुल यादव हाउसिंग डॉट कॉम के फाउंडर हैं इनकी एजुकेशन बीटेक ड्रॉपआउट है

स्टीव जॉब्स जो एप्पल के फाउंडर में इनकी एजुकेशन बीटेक ड्रॉपआउट है

बिल गेट्स जो माइक्रोसॉफ्ट के फाउंडर है इनकी एजुकेशन बीटेक ड्रॉपआउट हैं

ऐसे हजारों लोग हैं जिनको बताया जा सकता है जिनकी बहुत अच्छा क्वालिफिकेशन नहीं होने के बाद होने के बाद भी सफलता के शिखर पर है

आप जानते हैं ऐसा क्यों इसका रिजन यह है कि इन सब लोगों ने अपने अंदर छुपी INBORN TALENT प्रतिभा को पहचाना और इसी को PASSION बनाकर PROFESSION बनाया और यही कारण है कि आज वह सभी लोग इतने बड़े सक्सेस स्टार है

इसीलिए माता पिता अगर अपने बच्चे के अंदर छुपी INBORN TALENT को पहचाने और उसी दिशा में आगे मार्गदर्शन करिए फिर देखिए आपके बच्चे क्या कर जाएंगे

अब सबसे बड़ा सवाल यह उठता है कि हम कैसे पहचाने कि हमारे बच्चे के अंदर कौन INBORN TALENT प्रतिभा है वह कौन सी प्रतिभा का धनी है

अगर आपको नहीं पता तो इसका एक ही उपाय है DMIT FINGERPRINT TEST टमैटोग्राफिक्स मल्टीपल इंटेलिजेंट टेस्ट (Dermatoglyphic Multiple intelligence Test ) दोस्तों यह वह टेस्ट है जो बच्चों और बड़ों के फिंगरप्रिंट से लिया जाता है यह टेस्ट यह बताता है कि आपके बच्चे की Strength क्या है और weakness क्या है

बच्चे के अंदर कितनी Highest Multiple intelligence है

आप के बच्चे की Personality Type क्या है

बच्चे को किस सब्जेक्ट में जाना चाहिए बच्चे को किस प्रोफेशन मैं जाना चाहिए यह सारी समस्याओं का समाधान यह टेस्ट है

DMIT FINGERPRINT TEST पूरे विश्व में बहुत सी कंट्री लगभग 160 देशों में इस टेस्ट को यूज किया जाता है जिसके द्वारा कैरियर को प्रोफेशन को चुनने में बहुत मदद मिलती है

जब बच्चा मां के पेट के गर्भ में पलता है तो शुरुआत के 13 से 20 हफ्ते में उसके ब्रेन का दिमाग का डेवलपमेंट होता है और उसी समय दिमाग के साथ साथ फिंगरप्रिंट भी डेवलप होता है

वैज्ञानिकों व डॉक्टरों ने शोध में यह पाया कि कुछ बच्चे जो बिना दिमाग के पैदा हुए उनके हाथों में फिंगर प्रिंट भी नहीं थी तब जाकर रिसर्च में वैज्ञानिकों ने यह साबित कर दिया कि जिस बच्चे की फिंगरप्रिंट नहीं होते हैं उनका दिमाग भी नहीं होता है