19 जिलों में भारी बारिश के कारण अलर्ट पर रखा गया है राहत आयुक्त जीएस प्रियदर्शी ने शुक्रवार को प्रदेश के 19 जिलों में आगे 2 दिन के लिए भारी बारिश की चेतावनी जारी की है जिनमें चित्रकूट, प्रयागराज, सोनभद्र, मिर्जापुर, चंदौली, वाराणसी, संतकबीरनगर, कौशांबी, प्रतापगढ़, सुल्तानपुर, गाजीपुर, जौनपुर, आजमगढ़, बलिया, मऊ, देवरिया, गोरखपुर व अंबेडकरनगर शामिल है हालांकि अन्य जिलों में भी बारिश जारी रहेगी मौसम विभाग के अनुसार नवरात्रि तक मौसम पूरी तरह सामान्य हो सकता है

सीएम ने मृतक आश्रितों को चार लाख की सहायता का दिया आदेश प्रदेश में अतिर्वृष्टि से मौतों को देखते हुए ने डीएम को राहत कार्य में तत्परता लाने और मृतक आश्रितों को 24 घंटे में ₹400000 की सहायता निर्देश दिया है सरकार ने 2 दिन में 44 मौतें मानी है सीएम ने सख्त हिदायत दी है कि राहत कार्य में शिथिलता पर कठोर कार्रवाई की जाएगी

3 दिनों से लगातार हो रही बारिश जानलेवा हो चली है गांव में बड़े पैमाने पर कच्चे और जर्जर मकान व पेड़ गिर गए जिसमें दबकर 51 लोगों की मृत्यु हो गई अवध अवध क्षेत्र में 15 प्रयागराज में 14 पूर्वांचल में 13 पूर्वांचल में 13 बुंदेलखंड में सात कानपुर व सहारनपुर में पूर्वांचल में 13 बुंदेलखंड में सात कानपुर व सहारनपुर में 11 पूर्वांचल में 13 बुंदेलखंड में सात कानपुर एक व सहारनपुर में एक जान गई है

अवध क्षेत्र के अमेठी में दीवारें गिरने से एक दंपती समेत 7 लोगों की मृत्यु हो गई वही बाराबंकी में तीन अंबेडकरनगर में दो और सीतापुर अयोध्या व रायबरेली भी एक-एक मौत हुई है प्रयाग राज और आसपास के जिलों में सैकड़ों घर गिर गए हैं प्रतापगढ़ में प्रतापगढ़ में घर के अंदर मलबे से दबकर 10 लोगों की 10 लोगों की मौत हो गई कौशांबी में दीवार ढहने से दीवार ढहने से किशोर न्याय बोर्ड के पीठासीन अध्यक्ष न्याय बोर्ड के पीठासीन अध्यक्ष की जबकि प्रयागराज के मऊआइमा और हंडिया में कच्चे मकान ढहने से 3 लोगों की मौत हो गई!