एनी रेलवे मेंस कांग्रेस के संरक्षक श्री सुभाष दुबे जी द्वारा हर कर्मचारी सभा में अपील की जाती है कि जिस परिवार का मुखिया मजबूत नहीं होता है वह परिवार नहीं चलता है वह बात बिल्कुल सत प्रतिशत सत्य है जिस कैडर का अधिकारी मजबूत नही होता अधिकारी अपने विभाग के कर्मचारियों अपने परिवार के प्रति वफादार तथा विरोधी तत्वों के प्रति दमदार नहीं होता है वह हमेशा अपने मूह की खाता है इसी प्रकार की एक घटना कल मेरठ सेक्सन मे हुयी दिनाक 01-10-2019, सोमवार को राजीव गुप्ता NGL- TPZ सेक्शन में, मोहित जी की अनुपस्थिति में TEAM 07 पर USFD टेस्टिंग करने गया थे। कार्य करने के बाद 54304 कालका PASSENGER से वापस आ रहे थे। ट्राली SLR में लोड की हुई थी ।
MUZZFARNAGAR आने पर 4-5 GRP CONSTABLE अपने स्टाफ को बैठा रहे थे।
टीम पर कार्यरत एक ट्रैकमैन मुकेश मीना ने मना किया और कहा कि सर आप आगे gaurd वाले coach में बैठा दो।
इतनी बात कहने पर ही constable subash ने मुकेश मीना को बाहर खीच लिया और उसको GRP thane में ले गए ।
हमने ट्राली वही पर उतर ली और thane में पीछे – पीछे आ गए । और जीआरपी SI से बहुत बहस हुई , और कंट्रोल मेसेज किया।
उसके बाद SR.DEN 2, DEN TRACK , SSE TD SSB , MTS DLI , PLG cell सभी हॉट लाइन पर आ गए।
इतनी देर में ही श्री manoj SSE PWAY INCHARGE आ गए । और उनके 30-40 TRACKMEN आ गए। और ट्रैक पर बैनर फ्लैग लगा दिया ।
2 TRAIN detention हुई .।
काफी समझाने के बाद बैनर फ्लैग हटवाया।
मीडिया वाले भी आ गए।

और बाद में उस कांस्टेबल को सबके सामने माफी मांगनी पड़ी। ट्रैक मेंटेनर साथियों के साथ जिन पुलिस की वर्दी पहने कुछ गुंडों ने गाड़ी से उतार कर मारपीट की तथा थाने में ले आए उनके एसएससी श्री मनोज कुमार जी ने अपनी ताकत का अंदाजा देख हाथ पाव फूल गये उन्होंने अपनी ताकत को अहसास कराते हुए रेलवे ट्रैक को ही जाम करा दिया और 2 मिनट में उस कांस्टेबल को जो वर्दी में अपने आप को गुंडा समझता था माफी मांगनी पड़ी तो कर्मचारियों से मेरा अनुरोध है कि आप जहां भी है अपने रेल कर्मचारियों के साथ एकता में रहें और अधिकारियों से भी मेरा अनुरोध है कि वह अपने परिवार के सदस्यों का अपमान ना होने दें अपनी ताकत का परिचय कराये।