इज्जतनगर रेलवे मंडल के एक स्टेशन मास्टर ने चतुर्थ श्रेणी रेल कर्मचारी को ऑफिस में ही डंडे से पीट डाला इस घटना का एक यात्री ने वीडियो वायरल कर दिया अधिकारियों में खलबली मच गई देखते-देखते मामले की जांच बैठा दी गई आरोपी पर कार्रवाई की बात की जा रही है

कुछ लोगों से पता चला की आरोपी स्टेशन मास्टर नरमू का उपाध्यक्ष भी है इससे पहले स्टेशन मास्टर श्याम प्रताप श्रमिक संघ के पदाधिकारी थे उस समय भी यह छोटे कर्मचारियों से झगड़ा किया करते थे जिस कारण इनकी चर्चा गोरखपुर मुख्यालय तक पहुंच गई थी कर्मचारियों के शिकायत के आधार पर श्याम प्रताप को यूनियन से बाहर निकाल दिया गया था इसके बाद भी नहीं बदले तेवर

जिस समय यह घटना हुई रेलवे स्टेशन में एक कर्मचारी स्टेशन मास्टर ऑफिस के पास से गुजरते वक्त उसने मारपीट का नजारा देखा तो वीडियो बनाना शुरु कर दिया और कुछ ही समय मैं यह वीडियो वायरल हो गया इज्जत नगर रेल मंडल के राजेंद्र सिंह का कहना है कि इस मामले से उच्चाधिकारियों को अवगत कराया गया है मामले की जांच चल रही है जांच के बात करवाई थी जाएगी

मथुरा कैंट रेलवे स्टेशन में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी विनोद कुमार ने आरपीएफ को दी गई तहरीर में बताया कि गुरुवार को वह बगैर ड्रेस के ड्यूटी पर पहुंच गए थे जब विनोद कुमार ने स्टेशन मास्टर श्याम प्रताप से हस्ताक्षर करने के लिए डायरी मांगा तो उन्होंने कहा पहले ड्रेस पहन कर आओ तब विनोद कुमार ड्रेस पहनकर पहुंचा तब हस्ताक्षर करने दिया गया इसी दौरान विनोद कुमार ने स्टेशन मास्टर से पूछ लिया की आप भी तो अपने ड्रेस में नहीं है। इतना पूछते ही स्टेशन मास्टर ने चतुर्थ कर्मचारी से अभद्रता शुरु कर दी और गाली देते हुए कहा ऑफिस से बाहर निकल जाओ इसके बाद गुस्से में मेज के नीचे से डंडा निकाल कर पीटने लगे ऑफिस में मौजूद अन्य लोगों ने कर्मचारी का बचाव किया विनोद कुमार का आरोप है कि मुझसे दबाव में समझोता नामा लिखवाया गया उसने कहा अगर ड्यूटी के दौरान मेरे साथ कोई घटना होती है तो इसके लिए स्टेशन मास्टर श्याम प्रताप सिंह जिम्मेदार होंगे।