सीएम योगी ने कहा कि हिंदू नेता कमलेश तिवारी के हत्यारों को बख्शा नहीं जाएगा उन्होंने कहा कि प्रदेश में दहशत भय का माहौल बनाने की कोशिश हो रही है

गुजरात के सूरत में रची गई थी कमलेश की हत्या की साजिश कमलेश तिवारी की हत्या की साजिश सूरत में रची गई थी जिससे 6 लोग शामिल थे इनमें से मौलाना मोहसिन शेख फैजान और रशीद अहमद पठान को सूरत से गिरफ्तार कर लिया गया है फैजान ने वहीं से मिठाई खरीदी थी मिठाई की उसी डिब्बे से लखनऊ पुलिस को महत्वपूर्ण सुराग हाथ लगे सूत्रों द्वारा सूत्रों के बारे में पूरी जानकारी मिल गई है लेकिन पुलिस प्रशासन अभी गिरफ्तार नहीं कर पाई है पुलिस ने एक व्यक्ति को नागपुर से पूछताछ के लिए उठाया है पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह सुबह इस हत्याकांड का खुलासा किया उन्होंने दावा किया कि यह हत्या कमलेश के 2015 में दिए गए भड़काऊ बयान और हिंदूवादी सोच की वजह से की गई है कुछ और बिंदुओं पर अभी पड़ताल की जा रही है डीजीपी ने बताया कि गिरफ्तारी आरोपी सूरत के रहने वाले हैं उनकी उम्र 21 से 25 वर्ष के बीच हैं इसमें मशीन चेक साड़ी की दुकान पर काम करता है फैजान जूते की दुकान पर काम करता है रसीद दर्जी का काम करता है और कंप्यूटर का अच्छा जानकार है
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने तिवारी की हत्या पर दोषियों को नहीं बख्शा जाएगा कहते हुए दहशत के माहौल बनाने की कोशिश की जा रही है मुख्यमंत्री ने कहा कि यह घटना दहशत पैदा करने की शरारत है इसमें कुछ लोगों को हिरासत में लिया गया है उत्तर प्रदेश पुलिस अपना काम कर रही है दोषियों को नहीं बख्शा जाएगा